Tue. Mar 31st, 2020

विटामिन की कमी से होने वाले रोग और उनके स्त्रोत क्या है ?

विटामिन-A की कमी से होने वाले  रोग

विटामिन A की कमी मुख्य रूप से निम्न रोगों का कारण बनती है, जैसे:

  • रतौंधी
  • संक्रमण का उच्च जोखिम, विशेष रूप से गले , छाती और पेट में
  • कूपिक हाइपरकेराटोसिस , जो सूखी, ऊबड़ त्वचा का कारण बनता है।
  • केराटोमालेशिया
  • प्रजनन सम्न्धी समस्याये
  • बच्चों में विकास में देरी, इत्यादि

विटामिन-A के   स्त्रोत

अंडा दूध गाजर, पालक, पपीता , अंडे की जर्दी, दही, सोयाबीन  और अन्य पत्तेदार हरी सब्जियां शामिल हैं।

विटामिन-B1  की कमी से होने वाले  रोग

विटामिन B1 की कमी से बेरीबेरी  और वेर्निक-कोर्साकोफ सिंड्रोम आदि रोग हो सकते हैं।

विटामिन-B1के  स्त्रोत

खमीर  ,सूअर का मांस  ,अनाज के दाने ,सूरजमुखी के बीज, ब्राउन राइस, साबुत अनाज ,फूलगोभी ,आलू ,संतरे अंडे, इत्यादि।

विटामिन B2 की कमी से  होने  वाले  रोग

विटामिन  B2 की कमी से निम्न रोग हो सकते हैं:

  • एरीबोफ्लेविनोसिस
  • ग्लोसाइटिस
  • एंगुलर स्टोमाटाइटिस

विटामिन B2 के  स्त्रोत

केले ,लंबी भिंडी ,पनीर ,दूध ,दही ,मांस ,अंडे ,मछली ,हरी सेम, इत्यादि।

विटामिन C की कमी से  होने  वाले  रोग

विटामिन C की कमी मुख्य रूप से स्कर्वी रोग का कारण बनती है। विटामिन C की कमी से होने वाले रोग निम्न हैं, जैसे:

  • स्कर्वी
  • मसूड़े की सूजन और  दांत की समस्याएं
  • त्वचा की समस्याएं
  • संक्रमण
  • कैंसर
  • आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया या मेगालोब्लास्टिक अनीमिया
  • अस्थमा

विटामिन C के  स्त्रोत

काले किशमिश, कीवी फल , ब्रोकोली,  लीची , टमाटर , खट्टे फल जैसे- संतरे, नीबू  जामुन ,गोभी ,अमरुद  ,शिमला  मिर्च ,पपीता ,इत्यादि

विटामिन D की कमी से  होने  वाले  रोग

विटामिन  D की कमी अनेक प्रकार के रोगों के उत्पन्न होने का कारण बन सकती हैं, जिनमें शामिल हैं:

विटामिन D  के  स्त्रोत

झींगा और सैल्मन मछली , संतरे का रस ,दूध , मशरूम ,अनाज ,अंडे ,कॉड लिवर तेल , दही, इत्यादि।

विटामिन E की  कमी  से होने  वाले  रोग

विटामिन  E की कमी निम्न रोगों को उत्पन्न होने का कारण बनती है:

  • हेमोलिटिक एनीमिया
  • न्यूरोमस्कुलर रोग जैसे कि स्पिनोसेरेबेलर अटैक्सिया  और मायोपैथी ।
  • न्यूरोलॉजिकल समस्याएं जैसे- डिसरथ्रिया
  • रेटिनोपैथी
  • प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया की हानि, इत्यादि

विटामिन E  के  स्त्रोत

कीवी फल, अंडे,  दूध , नट्स , बादाम , मूंगफली ,एवोकैडो ,पत्तेदार हरी सब्जियां , बिना गर्म किए हुए वनस्पति तेल ,गेहूं के बीज ,साबुत अनाज, इत्यादि।

विटामिन K  की  कमी  से  होने  वाले  रोग

विटामिन K की कमी मुख्य रूप से असामान्य रक्त स्त्राव का कारण बनती है। इसके अतिरिक्त विटामिन K की कमी अनेक प्रकार के रोगों को जन्म देने के लिए उत्तरदाई हो सकती है, जिनमें शामिल हैं:

  • ऑस्टियोपोरोसिस
  • रोजेशिया
  • ह्रदय  रोग
  • बिलियरी सिरोसिस
  • हड्डी के नुकसान
  • हड्डियों में फ्रैक्चर जैसे- स्पाइनल फ्रैक्चर, हिप फ्रैक्चर और नॉन-स्पाइनल फ्रैक्चर
  • लीवर कैंसर,  फेफड़ो का कैंसर , स्तन कैंसर इत्यादि।

विटामिन K  के  स्त्रोत

शरीर में विटामिन K की पूर्ति आहार या खाद्य पदार्थों के माध्यम से की जाती है। इसे सप्लीमेंट के रूप में भी प्राप्त किया जा सकता है। पत्तेदार हरी सब्जियों में विटामिन K1 की मात्रा सर्वाधिक होती है, इसके अतिरिक्त विटामिन  K के उच्चतम स्त्रोतों में निम्न को शामिल किया जा सकता है, जैसे: पालक , ब्रोकोली, गोभी , शलजम , ब्रसेल्स स्प्राउट्स , वनस्पति तेल , डेयरी उत्पाद , अनाज , सोयाबीन, इत्यादि।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *