Fri. Jun 5th, 2020

मधुमेह का सबसे बड़ा खतरा गर्भवती महिलाओ में होता है?

gestational diabetes

गर्भवती महिलाओ में मधुमेह

गर्भकालीन मधुमेह उच्च रक्त शर्करा होती है जो महिलाओ में तब विकसित होता है जब वे गर्भवती होती है परन्तु बच्चे के जन्म के बाद अक्सर गायब हो जाता है। इसके बाद यह तब होता है जब आपका शरीर पर्याप्त इंसुलिन को चालू नहीं कर सकता है – एक हार्मोन जो प्रबंधन रक्त शर्करा के स्तर में मदद करता है –  जीडीएम (गेस्टेशनल डायबिटीज मेलिटस) गर्भावस्था में मधुमेह का प्रमुख कारण 21 मिलियन जीवित जन्मों को प्रभावित करता है। 7 जन्मों में से एक गर्भकालीन मधुमेह मेलेटस से प्रभावित होता है। जीडीएम के साथ महिला का अनुपात 85.1% है। गर्भावस्था में पहली बार पता चला मधुमेह के साथ महिला का अनुपात 7.4% है। गर्भावस्था से पहले पाई गई डायबिटीज से पीड़ित महिला का अनुपात 7.5% लक्षण ज्यादातर महिलाओं में गेस्टेशनल डायबिटीज के लक्षण नहीं होते हैं,

गर्भावस्था में मधुमेह के लक्षण

गर्भवती महिलाओ में मधुमेह के लक्षण निम्न प्रकार से हो सकते है  

  • मूत्र में शर्करा (आपके डॉक्टर के कार्यालय में किए गए परीक्षण में पता चला)
  • असामान्य प्यास।
  • लगातार पेशाब आना।
  • थकान।
  • जी मिचलाना।
  • बार-बार योनि, मूत्राशय, और त्वचा में संक्रमण।
  • धुंधली दृष्टि।

गर्भवस्था में मधुमेह के  कारण

  • यदि आपने 25 वर्ष की आयु पार कर ली है तो आपको गर्भावधि मधुमेह होने का खतरा अधिक है
  • अगर आप प्री-डायबिटीज है तो आप में गर्भावस्था में मधुमेह का खतरा सबसे अधिक हो जाता है 
  • यदि आपको पिछली गर्भावस्था के दौरान गर्भकालीन मधुमेह होने की संभावना थी , यदि आपने एक शिशु का प्रसव किया है, जिसका वजन 9 पाउंड (4.1 किलोग्राम) से अधिक है या यदि आपके पास अस्पष्टीकृत गर्भपात है यदि आप काफी अधिक वजन  वाले हैं, तो आपको गर्भावधि मधुमेह होने की अधिक संभावना है
  • यदि आप काफी अधिक वजन वाले हैं, तो आपको गर्भावधि मधुमेह होने की अधिक संभावना है
  • यदि आपके परिवार में किसी वक्ति को मधुमेह कि शिकायत रही हो तो आपमें इस प्रकार के मधुमेह का खतरा और अधिक बढ़ जाता है 

उपचार

  •  फाइबर खाद्य पदार्थ   फाइबर में उच्च और वसा और कैलोरी में कम खाद्य पदार्थ चुनें।
  •  हमेशा फलों, सब्जियों और साबुत अनाज को ही भोजन के रूप में ले , चने से बना हुआ भोजन  मधुमेह के रोगियों के लिए सर्वोतम होता है
  • वजन घटाने की कोशिश  करे यदि आप गर्भवती होने की योजना बना रहे हैं पहले से अतिरिक्त वजन कम करने से आपको स्वस्थ गर्भावस्था हो सकती है।
  •  नियमित जांच ,विशिष्ट समय पर  भोजन के बाद घर पर अपने रक्त ग्लूकोस स्तर का परीक्षण करते रहे जिससे यह निर्धारित हो जाये की  क्या आपका ग्लूकोज का स्तर  सीमा के भीतर है।
  • नियमित रूप से योग  नियमित व्यायामकर्ता योग भी ग्लूकोज को नियंत्रित करने में योगदान दे सकता है।

प्राकृतिक उपचार

  • पर्याप्त पानी पीने से आपको अपने रक्त शर्करा के स्तर को स्वस्थ सीमा में रखने में मदद मिल सकती है।
  • एक अध्ययन से पता चला है कि व्यायाम, योग, विश्राम और ध्यान ने तनाव को कम किया है और गर्भवती महिला के लिए रक्त शर्करा के स्तर को कम किया है  ज्यादातर महिलाएं मीठे भोजन से दूर रहने और स्वस्थ रहने पर ध्यान देती हैं, हालांकि वे अपनी उठने वाली आदतों को नियंत्रित करना भूल जाती हैं।
  • अनियमित भोजन को सबसे बड़े कारणों में से एक माना जाता है जो गर्भावधि मधुमेह को बढ़ा देता है

To read complete article in English pls CLICK HERE>>>

1 thought on “मधुमेह का सबसे बड़ा खतरा गर्भवती महिलाओ में होता है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *